PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan 2021

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2021, PM Garib Kalyan Rojgar Yojan, Garib Kalyan Yojana | Garib Kalyan Rojgar Scheme | PM Rojgar Yojana | Garib Kalyan Yojana In Hindi | Pradhan Mantri Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan | गरीब कल्याण योजना

मोदी सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अभियान के तहत उन्हें नौकरी प्रदान की जाएगी जो भी व्यक्ति कोरोना वायरस महामारी के चलते अपनी नौकरी खो चुके हैं और किसी अन्य राज्य से अपने राज्य में वापस लौटे हैं

देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी 20 जून 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए इस अभियान की शुरुआत की थी सरकार का यह Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan बड़े पैमाने का ग्रामीण सार्वजनिक योजना कार्यक्रम है यह कार्यक्रम सशक्त और गांवों में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों और नागरिकों को आजीविका के अवसर प्रदान करेगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अभियान

‘गरीब कल्याण रोज़गार अभियान’ भारत सरकार के एक बड़े पैमाने पर ग्रामीण सार्वजनिक कार्य योजना है जो रिटर्निंग प्रवासी श्रमिकों और ग्रामीण नागरिकों को आजीविका के अवसर प्रदान करती है।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan का शुभारंभ 20 जून, 2020 को बिहार के खगड़िया जिले के ग्राम – तेलिहार, ब्लॉक- बेलदौर से किया गया था।

प्रधानमंत्री जी ने अभियान समारोह मैं यह भी कहा कि पहले हमारे गांव के लोग शहरों का भला कर रहे थे अब वह सभी अपने गांव में रह कर अपने गाँव का विकास करेंगे और एक सशक्त भारत बनाने में देश की मदद करेंगे प्रधानमंत्री जी ने अपने भाषण में कहा कि हर एक गांव की अपनी अपनी जरूरत है इसी के चलते PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan के तहत सभी जरूरतों को पूरा किया जाएगा

सरकार ने योजना की जानकारी प्रदान करने के लिए और रियल टाइम मॉनिटरिंग और रिपोर्ट आदि साझा करने के लिए ऑफिशियल पोर्टल http://gkra.nic.in लांच किया हुआ है

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

गरीब कल्याण रोजगार अभियान के उद्देश्य

50,000 करोड़ रुपये के संसाधन वाले इस अभियान के उद्देश्य हैं:

  • प्रवासियों और इसी तरह प्रभावित ग्रामीण नागरिकों को वापस करने के लिए आजीविका के अवसर प्रदान करें
  • सार्वजनिक बुनियादी ढाँचे वाले गाँव – आंगनवाड़ियाँ, पंचायत भवन, सामुदायिक स्वच्छता परिसर आदि।
  • दीर्घकालीन आजीविका के अवसरों को बढ़ाने के लिए चरण निर्धारित करें।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan Coverage

अभियान के लिए बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओडिशा जैसे छह राज्यों के 25,000 से अधिक प्रवासी श्रमिकों के साथ कुल 116 जिलों को चुना गया है जिसमें 27 एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट शामिल हैं। इन जिलों में लगभग 2/3 ऐसे प्रवासी श्रमिकों को शामिल करने का अनुमान है।

विकास कार्य के लिए 25 सेक्टर

अभियान में रोजगार प्रदान करने और ग्रामीण क्षेत्रों में आधारभूत संरचना तैयार करने के लिए 25 लक्षित संचालित कार्यों का गहन और केंद्रित कार्यान्वयन शामिल है:

  1. Community Sanitary Complexes
  2. Gram Panchayat Bhawans
  3. Works under Finance Commission funds
  4. National Highway works
  5. Water conservation & Harvesting works
  6. Wells
  7. Plantation works (including CAMPA Funds)
  8. Horticulture
  9. Anganwadi Centers
  10. Rural housing works (PMAY-G)
  11. Rural connectivity works (PMGSY)& Border road works
  12. Railway works
  13. Shyama Prasad Mukherjee RURBAN Mission
  14. PM KUSUM works
  15. Laying of Optic Fiber under Bharat Net
  16. Works under Jal Jeevan Mission
  17. PM Urja Ganga Project
  18. Training through KVK for Livelihoods
  19. Works through District Mineral Fund
  20. Solid and liquid waste management works
  21. Farm ponds
  22. Cattle sheds
  23. Goat Sheds
  24. Poultry sheds
  25. Vermi-composting

Abhiyaan Nodal Ministry/ Department

ग्रामीण विकास विभाग (DoRD), भारत सरकार अभियान के कार्यान्वयन, निगरानी और परिणाम के समन्वय के लिए नोडल विभाग के रूप में काम करेगा। कैबिनेट सचिव के अधीन सचिवों की एक समिति (अभियान) की समीक्षा की जा रही है। अभियन के लिए एक केंद्रीय समन्वयक होगा जो केंद्र के भाग लेने वाले विभागों / मंत्रालयों और राज्य सरकार के नोडल अधिकारी के साथ समन्वय करेगा। एक जिलावार समर्पित केंद्रीय नोडल अधिकारी (CNO) जमीनी स्तर के कार्यान्वयन की निगरानी और सुविधा के लिए जिम्मेदार होगा।

PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan Highlights

Campaign nameGarib Kalyan Rojgar Abhiyan
Launched ByPM Narendra Modi
Date20 June 2020
Campaign duration125 Days
BeneficiaryUnemployed migrant workers
Websitehttp://gkra.nic.in/
Departmentग्रामीण विकास विभाग (DoRD)

Leave a Comment